Breaking News
Home / NEWS / अमिताभ बच्चन ने ऐसा क्या कहा था इंद्र गांधी को जो पूर्व प्रधानमंत्री रोने लगी!

अमिताभ बच्चन ने ऐसा क्या कहा था इंद्र गांधी को जो पूर्व प्रधानमंत्री रोने लगी!

अमिताभ बच्चन को कोई बॉलीवुड का शहंशाह कहता है तो कोई कुली और इस बात की वजह तो सभी जानते ही हैं। अक्सर अभिनेता या अभिनेत्री का नाम उसी किरदार पर पड़ जाता है जिस किरदार से वह मशहूर होते हैं । पर क्या आप जानते हैं अमिताभ की सबसे सुपरहिट फिल्म कुली जो कि 1983 में रिलीज हुई थी वह शायद उनकी आखिरी फिल्म भी हो सकती थी। दरअसल कूली फिल्म की शूटिंग के दौरान अमिताभ का एक्सीडेंट हो गया था जिसके बाद अमिताभ कम से कम महीना भर तो हॉस्पिटल में ही थे।अमिताभ ने गंभीर हालत में रोते रोते एक बार इंदिरा गांधी को यह भी कह दिया था कि आंटी मैं सो नहीं पा रहा।

कूली फिल्म

अमिताभ बच्चन के साथ फिल्म शूटिंग के दौरान एक हादसा हुआ था!

दरअसल किस्सा 1982 का है जब अमिताभ अपनी कुली फिल्म का एक्शन सीक्वेंस शूट कर रहे थे।वैसे तो जब भी स्टंट सीन शूट करने होते हैं तो अभिनेता अक्सर शूटिंग की भागदौड़ अपनी स्टंटमैन को सौंप देते हैं। पर अमिताभ ने जीत की थी कि वह इस फिल्म के स्टंट खुद ही करेंगे। पर स्टंट सीखने के दौरान ऐसी दुर्घटना हो जाए जिससे बॉलीवुड के बिग बी की जान को खतरा हो जाएगा यह बात कोई नहीं जानता था।

अमिताभ बच्चन

 

अमिताभ बच्चन की कूली फिल्म के दौरान हुआ था हादसा!

शूटिंग के दौरान एक सीन ऐसा था जिसमें अमिताभ बच्चन और पुनीत एसआर की लड़ाई होती है ।आपको बता दें कि यह लड़ाई सीक्वेंस में लड़ाई कैसे होगी यह पहले ही अभिनेताओं को बता दिया जाता है ताकि किसी को असल में चोट ना लग जाए और भारी नुकसान ना हो जाए। जब सीन के दौरान पुनीत और अमिताभ लड़ रहे थे तो एक जगह अमिताभ को जंप करना था जहां वह भूल गए और पुनीत ने कसकर मुक्का मार दिया जिससे अमिताभ के पेट की आंतदी ही फट गई।

कूली फिल्म

अभिनेता के साथ आखिरकार हुआ क्या था?

जैसे ही अभिनेता को चोट लगी तो तुरंत ही उन्हें सैंट फिलोमिना अस्पताल ले जाया गया पर जब उनकी तबीयत थोड़ी ज्यादा नासाज सी लगी उन्हें मुंबई लाकर ब्रिज कैंडी हॉस्पिटल में दाखिल करा दिया गया। जया बच्चन ने एक इंटरव्यू के दौरान यह तक बताया था कि जब वह अस्पताल पहुंचे तो डॉक्टरों ने यह तक कह दिया था कि अमिताभ के बचने की उम्मीद बहुत कम है पर जया को उनके परिवार वालों ने समझाया कि यह समय हिम्मत छोड़ने का नहीं हिम्मत जुटाने का है। जया ने यह भी बताया कि वह उस टाइम लगाता है हनुमान चालीसा पढ़ते रही।

अमिताभ

इंद्रा गांधी से क्या कहा था अमिताभ ने?

इंदिरा गांधी ने अपनी बुक में इस हादसे का जिक्र भी किया है। इंदिरा गांधी ने यह बताया कि जब अमिताभ के साथ ही हादसा हुआ तब वह लास एंजलिस में थी। जब उन्हें इस बात की खबर मिली तो उन्होंने तुरंत ही अपने बेटे राजीव गांधी को भारत भेज दिया और कुछ दिनों बाद जब वे भारत लौटे तब तक डॉक्टर्स ऐलान कर चुके थे अमिताभ क्लिनिकली डेड है ।अमिताभ काफी समय आईसीयू में भी गुजारा क्योंकि वह कोमा में चले गए थे। जब इंदिरा गांधी अमिताभ से हॉस्पिटल में मिलने आई तो अमिताभ ने कहा कि मैं सो नहीं पा रहा आंटी तब रोते-रोते इंदिरा गांधी ने उन्हें कहा कि बेटा कई दफा मुझे भी सोने में तकलीफ होती है तुम जल्दी ठीक हो जाओगे हिम्मत रखो।

अमिताभ और इंद्रा गांधी

आर्टिकल पढ़ने के लिए धन्यवाद और भी लेटेस्ट न्यूज़ के लिए देखे हमारी वेबसाइट संचार डेली.

 

About komal

Leave a Reply

Your email address will not be published.