Breaking News
Home / Political / उत्तर प्रदेश के CM योगी है लाखो की संपत्ति के मालिक, आखिर क्या है उनके आय का जरिया?

उत्तर प्रदेश के CM योगी है लाखो की संपत्ति के मालिक, आखिर क्या है उनके आय का जरिया?

योगी आदित्यनाथ न केवल एक संत है बल्कि देश के एक बहुत बड़े राज्य के मुख्या मंत्री भी है। उनकी सालाना आय लगभग लाख आंकी गयी है । जिसके अलावा उनकी पूरी संपत्ति लगभग ७० लाख से अधिक है । योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश राज्य के 22वें और वर्तमान मुख्यमंत्री हैं। वह 19 मार्च, 2017 से कार्यालय में हैं। योगी आदित्यनाथ 1998 से लगातार पांच बार गोरखपुर निर्वाचन क्षेत्र, उत्तर प्रदेश से सांसद रहे हैं।



आदित्यनाथ ने 21 साल की छोटी उम्र में अपने परिवार को त्याग दिया था और महंत अवैद्यनाथ के शिष्य बन गए थे। और फिर, वह उनके उत्तराधिकारी और गोरखनाथ मठ के मुख्य पुजारी बने। उन्हें गुरु गोरखनाथ मंदिर के महंत के पद पर पदोन्नत किया गया था। योगी ५ बार गोरखपुर के MP रह चुके है.
वह गोरखपुर के एक हिंदू मंदिर गोरखनाथ मठ के महंत (प्रमुख पुजारी) भी हैं।


आदित्यनाथ की संपत्ति के मूल्य में पिछले तीन वर्षों के दौरान लगभग 32 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।
आदित्यनाथ ने कहा है कि लोकसभा सदस्य के रूप में प्राप्त वेतन और अन्य भत्ते उनकी आय का एकमात्र स्रोत थे। हलफनामे के अनुसार, वर्तमान में उनकी संपत्ति का मूल्य 95,98,053.41 रुपये है, जो 2014 में 72,17,674.14 रुपये था, जब उन्होंने लोकसभा चुनाव लड़ा था, जिसमें 23.80 लाख रुपये की वृद्धि हुई थी।
संपत्ति में 20 ग्राम वजन के 49,000 रुपये के सोने के कान के छल्ले और एक सोने की चेन (रुद्राक्ष की माला के साथ) 10 ग्राम वजन के 26,000 रुपये शामिल हैं। यूपी काउंसिल उपचुनाव के लिए रिटर्निंग ऑफिसर को उनके द्वारा प्रस्तुत एक हलफनामा, जिसमें वह चुनाव लड़ रहे हैं।


उनकी 2014 की घोषणा के अनुसार, आदित्यनाथ की संपत्ति हर श्रेणी में हथियारों के अलावा काफी बढ़ी है। और कई वर्षों के बेकार अस्तित्व के बाद, उनकी तीन कारों (अब एक टाटा सफारी, एक टोयोटा इनोवा और एक टोयोटा फॉर्च्यूनर) की कीमत 36 लाख रुपये थी। साधु ने 18,000 रुपये का स्मार्टफोन और 2,000 रुपये की घड़ी भी घोषित की।

हथियार रखने का भी है शौक :
उनके २००४ में पास एक रिवॉल्वर और एक राइफल थी, जिसकी कीमत लगभग 30,000 रुपये थी। अब उनके हथियारों की कीमत लगभग १,८०००० आंकी गयी है.



कहा जाता है की चाहे वे कितने ही अमीर हो जाए वे अपना रेहेन-सेहेन नहीं बदलेंगे :

वह एक ईमानदार नेता हैं जो पूरी निष्ठा के साथ जिम्मेदारी निभाते हैं।
हालाँकि उनकी आय बढ़ रही हो पर उनके व्यवहार को देख कर ऐसा लगता है की वे उसके बाद भी एक साधा और सरल जीवन ही व्यतीत करेंगे।

About Bhanu Pratap

Leave a Reply

Your email address will not be published.