Home / Bollywood / सोनू निगम क्यों है कश्मीर फाइल्स के खिलाफ

सोनू निगम क्यों है कश्मीर फाइल्स के खिलाफ

विवेक रंजन अग्निहोत्री के निर्देशन में बनी फिल्म “द कश्मीर फाइल्स” हर जगह इस फिल्म को देखने की जंग सी छिड़ी पड़ी है। यह फिल्म कश्मीरी पंडितों के पलायन करने और उनके साथ हुए अत्याचारों पर बनी हुई है। इस फिल्म में कश्मीरी पंडितो के साथ नब्बे के दशक में हुए बर्ताव को लेकर विवेक अग्निहोत्री ने फिल्म को बनाया है। यह फिल्म  दिन प्रति दिन सिनेमाघरों से जबरदस्त कमाई कर रही है। जहा अब यह फिल्म 250 करोड़ रुपए से ज्यादा की कलेक्शन कर चुकी है।

क्यों नही देखना चाहते सोनू निगम यह फिल्म ?

बॉलीवुड फिल्म द कश्मीर फाइल्स हाल ही  के दिनों की सबसे बड़ी हिट फिल्मों में से एक साबित हुई है और ऐसा लगता है कि इसके चारों ओर प्रचार खत्म नहीं हुआ है। इसका असर ऐसा था कि रिलीज के हफ्तों बाद भी सिनेमाघरों में सफलतापूर्वक चलने के दौरान दर्शकों द्वारा इसकी सराहना की जा रही थी। हालांकि ज्यादातर लोग फिल्म की सामग्री के बारे में बता रहे हैं, पार्श्व गायक सोनू निगम ने हाल ही में खुलासा किया कि उन्होंने अभी तक फिल्म नहीं देखी है और ऐसा लगता है कि उनके पास इसके लिए एक ठोस कारण था।

अनवर्स के लिए, टीकेएफ एक ऐतिहासिक ड्रामा फिल्म है, जो मार्च के दूसरे सप्ताह में सिनेमाघरों में हिट हुई थी । फिल्म 1990 के कश्मीरी पंडितों के पलायन के पीड़ितों पर केंद्रित है, जो हाल तक बहुत स्पष्ट रूप से चर्चा का विषय भी नहीं था। इसका निर्देशन विवेक अग्निहोत्री ने किया है और इसमें अनुपम खेर और दर्शन कुमार जैसे कलाकार मुख्य भूमिकाओं  में हैं।

किन किन वजहों के चलते नही देख पाए सोनू निगम यह फिल्म ?

सोनू निगम ने इसकी वजह बताते हुए कहा, जब वह इस तरह की कहानियां सुनते है तो अंदर से रोते है । यह बस कश्मीर  की ही बात नहीं है।वह  इस तरह के सभी अपराधों को लेकर बेहद सेंसिटिव है । उनमें  इस फिल्म को देखने की हिम्मत नहीं है। उनकी  सेंसिटिविटी सिर्फ कश्मीरी पंडितों के लिए ही नहीं बल्कि उन सभी समुदायों से है जिन्होंने इस विद्रोही एक्ट की  वजह से काफी कुछ सहा है ।

सोनू निगम ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ न देख पाने की एक और वजह बताई है । उन्होंने कहा कि जब यह फिल्म रिलीज हुई थी तो वह उस वक्त दुबई में भी थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *