Breaking News
Home / Bollywood / करोड़ों के मालिक है सचिन तेंदुलकर

करोड़ों के मालिक है सचिन तेंदुलकर

सचिन ने बहुत पहले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से रिटायरमेंट लेली थी ।उसके बावजूद सचिन करोड़ों में खेलते है । सचिन जब भी मैदान में खेलने उतरते थे तो स्टेडियम में हमेशा बस उन्ही का ही नाम सुनाई देता था । लोग आज भी सचिन के दीवाने है ।दुनिया में क्रिकेटर्स भी सचिन को बहुत रिस्पेक्ट देते है ।सचिन भारत के अमीर क्रिकेटर्स में शुमार है ।रिटायरमेंट के बाद भी उनकी लोकप्रियता में कोई कमी नहीं आई है ।सचिन एक शानदार घर में रहते है ,जो मुंबई के बांद्रा में है ।उन्होंने अपने बंगले को 2007 में 39 करोड़ में खरीदा था। वही इस समय इस घर की कीमत 100 करोड़ बताई जाती है ।

क्या हैं रिटायरमेन्ट के बाद भी उनके करोड़ों रुपए कमाने का राज ?

सचिन की संपत्ति साल 2020 में 834 करोड़ रुपए थी ।वही उनको लगातार मुनाफा हो रहा है ।उन्होंने ज्यादातर कमाई क्रिकेट से ही की है ।इसके बाद उन्होंने रियल एस्टेट में निवेश किया था । मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ,साल  2021 में सचिन की कमाई 120 मिलियन डॉलर हो गई थी । रिटायरमेंट के बाद भी सचिन की कमाई ने खूब जोर पकड़ रखा है ।देश विदेश के काफी ब्रांड्स के साथ वह जुड़े हुए है ।सचिन एडवरटाइजमेंट ,फैशन और कमर्शियल ब्रांड्स और स्पॉन्सरशिप से खून कमाई कर रहे है ।

कौन कौन से ब्रांड्स के साथ जुड़े हुए है सचिन ?

सचिन को उनकी लोकप्रियता का फायदा अब भी हो रहा हैं।वह कोका कोला ,एडिडास ,बीएमडब्ल्यू इंडिया ,तोशिबा ,जिलेट और काफी और भी ब्रांड्स से जुड़े हुए है ।सचिन ने 2021-2013 के बीच बस कोका कोला के साथ जुड़े रहकर 1.25 मिलियन डॉलर कमाए । तब सचिन ने क्रिकेट से रिटायरमेंट नहीं ली थी और बस ब्रांड्स के साथ जुड़े रहकर ही 62 करोड़ की कमाई की थी।

क्या सचिन को पेंशन भी मिलती है ?

क्रिकेट से रिटायरमेंट के बाद सचिन को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की तरफ से पेंशन के रूप में 50,000 रुपए प्रदान किए जाते है ।इसके अलावा उन्हें भारत रत्न से भी नवाजा जा चुका है ।जिससे उन्हें हर महीने पेंशन के रूप में कुछ रकम प्रदान होती है ।सचिन के पास मुंबई के बांद्रा पश्चिम में एक बड़ी और शानदार हवेली है ।जिसकी कीमत 62 करोड़ मानी जाती है ।मुंबई में कोलाबा और मुलुंड इलाके में भी सचिन के नाम पर कुछ प्रॉपर्टी है ।

About niyati

Leave a Reply

Your email address will not be published.