Breaking News
Home / Bollywood / नीबूं के दाम सुन लोगों के हुए दांत खट्टे, सब्जियों के दाम में हो रहा रिकॉर्ड तोड़ इजाफा

नीबूं के दाम सुन लोगों के हुए दांत खट्टे, सब्जियों के दाम में हो रहा रिकॉर्ड तोड़ इजाफा

भारत के सामने आज अनेक समस्यायें मुह बाये खडी हैं, जैसे बेरोजगारी, घूसखोरी और भाई-भतीजावाद, अशिक्षा, जनसंख्या वृद्धि आदि । इनसे भी अधिक भयावह समस्या जो हम सबके दैनिक जीवन को प्रभावित करती है, बढ़ती हुई कीमतों की समस्या है । इस कठिन समस्या के दो पहलू हैं-एक तो निरन्तर तेजी से बढ़ती हुई कीमतों पर अकुंश लगाना और हो सके तो कीमतों में कमी लाना ।

नीबू की बढ़ती कीमतें

नीबू की बढ़ती कीमतें लोगों के दांत खट्टे कर रही है। गर्मी में राहत देने वाली शिकंजी का स्वाद भी फीका हो गया है। सब्जियों की बढ़ती कीमतें रसोई का बजट बिगाड़ रहीं हैं। रमजान और नवरात्र के चलते फलों की मांग बढ़ी है। इससे फलों के दाम भी चढ़े हैं।आमतौर पर गर्मियों में नीबू की मांग बढ़ जाती है। वहीं, रमजान के महीने में रोजेदार नीबू का अधिक उपयोग करते हैं। इन दिनों नीबू की कीमत आसमान छू रही है। नींबू की महंगाई के चलते शिकंजी की ठेली भी दो-चार ही दिखाई दे रही हैं। शिकंजी की कीमतें भी दोगुना तक बढ़ गई हैं। साथ ही एक सप्ताह में सब्जी की कीमतों में भी खासा इजाफा हुआ है।

सभी सब्जियों के दाम में आया उछााल

 

आपको बता दें कि, ठंडी का मौसम आते ही मंडी में हरी से लेकर कई तरह की और सस्ती सब्जियां मिलने लगती है, लेकिन जैसे ही गर्मी का मौसम शुरु होता है हरी सब्जियां तो मानों गायब ही हो जाती है और बाकी जो बची होती है उनके दाम आसमान छू रहे होते है। वही हाल अब गर्मी के मौसम की शुरुआत के साथ ही फिर से शुरु हो गया है। जैसे ही गर्मी की शुरुआत हुई वैसे ही इनके दामों में इजाफा होने लगा है। इस समय सब्जियों के भाव पंद्रह दिन पहले के भाव से काफी बढ़ गया है।

शिमला की सब्जियों पर दिखा गर्मी का असर

इसके अलावा अगर बात करें हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला की तो यहां सब्जियों के दाम में थोड़ी बढ़त देखने को मिल रही है। आइए एक नजर डालते है शिमला प्रदेश के सब्जियों के दाम पर।

दिल्ली में मौजूदा सब्जी की कीमत

अगर बात करें राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सब्जियों की कीमत के बारें में, तो बता दें कि, अभी सब्जियों के दाम सातवे आसमान पर देखने को मिल रहा है। जानकारी के मुताबिक यहां सब्जियों की कीमत पहले के मुकाबले दोगुनी रेट पर बिक रही है।

नींबू = 350-400 रुपए प्रति किलोग्राम
धनिया = 180-200 रुपये प्रति किलो
मिर्च = 100-120 रुपये प्रति किलो
भिंडी = 100-120 रुपये प्रति किलो
गाजर = 50-55 रुपए प्रति किलोग्राम
शिमला मिर्च = 55-60 रुपए प्रति किलोग्राम
मूली = 10-12 रुपए प्रति किलोग्राम
चुकुंदर = 45-50 रुपए प्रति किलोग्राम
लंबा बैगन = 10-12 रुपए प्रति किलोग्राम
पत्ता गोभी = 25-30 रुपए प्रति किलोग्राम
खीरा = 40- 50 रुपए प्रति किलोग्राम
आलू = 20-25 रुपए प्रति किलोग्राम
फूल गोभी = 45- 50 रुपए प्रति किलोग्राम
अरवी = 50-55 रुपए प्रति किलोग्राम
जिमीकंद = 75-80 रुपए प्रति किलोग्राम
करेला = 60-70 रुपए प्रति किलोग्राम
मटर = 30-40 रुपए प्रति किलोग्राम
टमाटर = 40-50 रुपए प्रति किलोग्राम
बींस = 80- 90 रुपए प्रति किलोग्राम
टिंडा = 80-100 रुपए प्रति किलोग्राम
परवल = 80-90 रुपए प्रति किलोग्राम
लौकी = 20-25 रुपए प्रति किलोग्राम
बैंगन = 40-45 रुपए प्रति किलोग्राम
सेम = 45-50 रुपए प्रति किलोग्राम

About kavya Swaroop

Leave a Reply

Your email address will not be published.