Home / NEWS / बबीता जी ने इंस्टाग्राम पोस्ट के ज़रिए बताए उनके साथ हुए साथ घिनौने हादसे “मि टू” मूवमेंट के तहत!

बबीता जी ने इंस्टाग्राम पोस्ट के ज़रिए बताए उनके साथ हुए साथ घिनौने हादसे “मि टू” मूवमेंट के तहत!

बबीता जी का नाम लेते ही आपकी आंखों के सामने मुनमुन दत्ता का चेहरा आ जाता होगा और आखिर क्यों ना आए तारक मेहता का उल्टा चश्मा ही सिर्फ एक ऐसा धारावाहिक है जिसके हर किरदार को बराबर प्यार और स्नेह मिला होगा। बबीता जी अपनी अदाओं और खुभसूरती की वजह से सिर्फ शो में ही नही बल्कि असल जिंदगी में भी बहुत चर्चा में रहती है। पर बहुत कम लोग यह बात जानते थे की इस हस्ते हुए चेहरे के पीछे नजाने ऐसे कितने घिनौने हादसों से गुजरी है।

बबीता जी

 

बबीता जी भी हुई है “मि टू” का शिकार!

आप सभी ने मि टू मूवमेंट के बारे में सुनना और देखा होगा ही। इस मूवमेंट में सभी वो लोग जुड़े है जो औरतों के साथ हुई चेढ़खानी और बद्तमीजी के खिलाफ हो और आवाज उठाए। वह जिन महिलाओ के साथ ऐसे घिनौने हादसे हुए है उनके लिए यह मूवमेंट शुरू किया था की उन्हे ऐसा प्लेटफॉर्म मिले जहा वो आकर खुल के बता सके की उनके साथ क्या हादसा हुआ था। कई दफा यह होता है की उस आदमी के डर से नही तो समाज में बदनामी होने के डर औरते अपने साथ हुए ऐसे शर्मनाक हरकत के बारे में एफआईआर तक दर्ज नही करवाती।

बबीता जी

बबीता जी ने क्या लिखा इंस्टाग्राम पोस्ट में?

मुनमुन दत्त ने हाल ही में अपने इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए सरेआम यह जाहिर किया की वह भी औरतों के साथ हुई छेड़खानी और घिनौने अपराध की शिकार रह चुकी है। उन्होंने यह भी बताया की वह बहुत ही छोटी सी उम्र से इस घिनौने स्पर्श को महसूस कर चुकी है।उन्होंने अभी पोस्ट में आगे लिखते हुए कहा की सभी मर्दों को अपने आस पास की औरतों की सुरक्षा का ध्यान देना चाहिए साथ ही यह भी लिखा की अपनी मां , बहन , बेटी , बीवी या घर की नौकरानी के साथ ऐसा घिनौना अपराध ना हो इसलिए मर्दों को एक सुरक्षित माहौल बना के रखना चाहिए।

मुनमुन दत्ता

 

मुनमुन के साथ हुए घिनौने हादसे!

अभिनेत्री ने यह तक भी बताया की उनके स्कूल के एक टीचर लड़कियों को शरारत करने पर उनको उनके स्तन पर थप्पड़ मार कर सज्जा देते है। अब यह पढ़ने में जब हम इतने आश्चर्यचकित और घृणा महसूस कर रहे है उससे कई ज़्यादा घृणा उन बच्चियों को अपने विद्यार्थी से होने लगी होगी जिसने यह घिनौनी हरकत की थी। मुनमुन ने यह भी बताया की एक बार उनके ट्यूशन टीचर ने उनके पेट पर हाथ डाला था और उनके पड़ोस के अंकल उन्हे बूरी नजरो से देखने लगे जब वह थोड़ी बड़ी होने लगी।लेकिन अब मुनमुन का यह कहना है की किस पुरुष की नज़र और फितरत कैसी है वह पहचान लेती है और खुद को ऐसे मर्दों से कैसे बचना है यह भी बाली भाती जानती है। मुनमुन ने अपने साथ हुए हादसों को सबके साथ बाट कर उन लड़कियों को प्रेरणा दी है जो खुल कर अपने साथ हुए अन्याय के खिलाफ आवाज नही उठाती।

मुनमुन दत्ता

आर्टिकल पढ़ने के लिए धन्यवाद और भी लेटेस्ट न्यूज़ के लिए देखे हमारी वेबसाइट संचार डेली.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *