Home / Motivational / कैसे बनाए निराशा को प्रेरणा?

कैसे बनाए निराशा को प्रेरणा?

कोरोना काल में अधिकतम परिवारों ने अपने सगे संबंधी गवाए है। इस महामारी में नजाने कितने युवा व फ्रंट लाइन वर्कर्स ने आपकी महत्वपूर्ण जान गवाई जिनका योगदान ये देश कभी भूल नही पाएगा। आसपास डरावना माहौल देखके नजाने कितनो का ज़िंदगी पर से भरोसा हट्टा और दिल में मौत का डर बैठ गया। वैक्सीन ने दुबारा से सब ठीक होने की प्रेरणा दी। ठीक जैसे वैक्सीन ने प्रेरणक बनकर हमारी दुबारा से स्वस्थ ज़िंदगी जीने की आशाओं को जगाया , ठीक उसी तरह हमें अपनी ज़िंदगी में आत्मविश्वान से खुद को समय के साथ–साथ प्रेरित करना चाहिए।

आत्मविश्वास खुद को प्रेरित रखने के लिए जरूरी

ज़िंदगी में ऐसे कई लम्हे या मोड़ आते है जब हम टूट जाते है निराश हो जाते है जो की एक साधारण बात है क्योंकि हम मनुष्य की “ज़िंदगी” ज़िंदगी जीना तब तक नही कहलाई जा सकती जब तक हम उतार चढ़ाव ना देख ले, पर उन निराशाओं से हताश होके अपना आत्मविश्वास खो देना ठीक नही। कठिन रास्तों पर ही इंसान को उसका आत्मविश्वास आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है ।

हार मानना नही है कोई हल

तो अगर आप फिलहाल किन्ही कठिन परिस्थितियों से गुज़र रहे है तो इसका मतलब यह नही की आप सोचे की ज़िंदगी खराब है बल्कि ज़िंदगी आपको कुछ सीखा रही है जो आपने अभी तक नहीं सीखा था यह सोचना चाहिए। जब दुबारा से आपके जीवन में खुशियों की लहर उठेगी तो आप अपने आप को धन्यवाद करेंगे की आप ने कठिन समय पर जिंदगी जीने की आस नही छोड़ी बल्कि खुदको प्रेरीत रखा।

सकारात्मकता

खुद को प्रेरित रखना इस दुनिया का सबसे मुश्किल कार्य है पर साथ ही में महत्वपूर्ण भी। रात जितनी भी काली हों सुबह हमेशा सुनहरी ही होती है। जैसे खुद को चुस्त और तंदुरुस्त रखने के लिए पोष्टिक आहार बोहोत जरूरी है ठीक उसी तरह अपने दिमाग व मन को भी प्रेरित रखने के लिए सकारात्मक ख्याल बहुत जरूरी है।सकारात्मक सोच रखने के लिए जरूरी है की आप सकारात्मक लोगो के नज़दीक रहे, अच्छी किताबें पढ़े जैसे की सय्म शिक्षा पुस्तके , सकारात्मक फ़िल्म व हास्य टीवी प्रोग्राम देखा करे। रोज़ अपने दिनचर्या में जो सबसे कठिन काम हो वह पहले करे ताकि जब आप वह करले तो आपका आत्मविश्वास बड़े और आगे बहुत से काम करने की प्रेरणा मिले। जब कभी आपका मन काम करने को ना करे या पढ़ने को ना करे तो आप एक सुनहरे भविष्य के बारें में विचार करे उससे आपको परिश्रम करने की प्रेरणा मिलते रहेगी और हार मानने का खयाल आपके मन से चले जाएगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *